श्री भारतवर्षीय दिगम्बर जैन तीर्थ संरक्षिणी महासभा
Shri Bharatvarshaiya Digamber Jain T. S. Mahasabha

तीर्थ संरक्षिणी महासभा की भावी योजनायें

1-
मथुरा के कंकाली टीले पर स्थल पर प्राचीनतम जैन स्तूप की प्रतिकृति।
2-
राजस्थान के झालरापाटन के शांतिनाथ मंदिर का जीर्णोद्धार।
3-
उमता (गुजरात) में भूगर्भ से प्राप्त मन्दिर का जीर्णोद्धार।
4-
जावरमाईन्स के दिग. जैन मन्दिर के समूह के पांच मन्दिरों का जीर्णोद्धार।
5- गुलबर्गा (कर्नाटक) जिले के २० मन्दिरों एवं स्मारकों का जीर्णोंद्धार।
6-
तमिलनाडु के प्राचीन मन्दिरों एवं गुफाओं का जीर्णोंद्धार एवं संरक्षण कार्य।
7-
पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले में प्राचीन मूर्तियों के लिए मन्दिर एवं मिनी संग्रहालयों का निर्माण।
8-
स्थानीय एवं साइट संग्रहालयों की स्थापना।
9-
देश के विभिन्न प्रान्तों में प्राचीन स्थलों का सर्वेक्षण का कार्य।
10-
केरल के प्राचीन मन्दिर के जीर्णोंद्धार हेतु अनुदान राशि प्रेषित की जानी है।
11-
महासभा के मुखयालय में पुरातत्व की लाईब्रेरी स्थापित करना।
12-
देश के विभिन्न क्षेत्रों में स्थापित प्राचीन मन्दिरों के जीर्णोंद्धार हेतु छोटे-छोटे अनुदान स्वीकृत करना।
13-
पुरातत्त्वीय प्रदर्शनी को देशव्यापी रूप देना।
 
 
 
 
Desigined & developeded by .